28.7 C
Dehradun
Thursday, September 29, 2022

डॉ0 चन्द्रमोहन बड़थ्वाल, कोटद्वार

15 POSTS0 COMMENTS
से.नि जिला आयुर्वेदिक/यूनानी अधिकारी

तक्र (मट्ठे) के गुण, छाछ के फायदे

निरोगता रखने वाले खाद्य-पेय पदार्थों में तक्र (मट्ठा) कितना उपयोगी है इसको सभी जानते हैं। यह स्वादिष्ट, सुपाच्य, बल, ओज को बढ़ाने वाला एवं...

महा औषधि पंचगव्य

‘धर्मार्थ काममोक्षणामारोण्यं मूलमुन्तमम्’ इस शास्त्रोक्त कथन के अनुसार धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष हेतु आरोग्य सम्पन्न शरीर की आवश्यकता होती है। पंचगव्य एक ऐसा...

स्वास्थ्य के लिए फलों का उपयोग

ईश्वर ने मानव स्वास्थ्य को अक्षुण बनाये रखने के लिये जहां विभिन्न खाद्य पदार्थों का निर्माण किया है वहीं अनेक फलों एवं कन्दमूलों को...

आकस्मिक चिकित्सा

कभी-कभी ऐसी आकस्मिक घटनायें घट जाती हैं जो व्यक्ति को मृत्यु के कगार तक पहुंचा देती है। ऐसे समय में तत्काल आवश्यक उपचार की...

मानसिक स्वास्थ्य के लिये सदाचार आवश्यक है

यह सर्वदा सत्य है कि जिसका मन बिगड़ जाता है उसका स्वास्थ्य भी बिगड़ जाता है। संयमहीनता, असत्य, अभिमान, ईर्ष्या, दम्भ, क्रोध, हिंसा, कपट...

निद्रा स्वस्थ जीवन का आधार

आयुर्वेद में आरोग्यता को ही सुख कहा गया है। जब शरीर के दोष (वात, पित्त, कफ) समान अवस्था में रहते हैं तो शरीरस्थ अग्नियां...

श्वास (ASTHMA) रोग में आहार-विहार

श्वास एक अत्यंत कष्टकारी रोग है। इसे दमा के नाम से अधिकतर लोग पुकारते हैं। यह मनुष्य को शारीरिक एवं मानसिक रूप से अक्षम...

आधाशीशी (MIGRAINE) कारण एवं चिकित्सा

वर्तमान समय में जबकि मनुष्य भौतिकवाद की अन्धी दौड़ में बिना लक्ष्य के भटक रहा है, ऐसे में मनुष्य का मानसिक तनाव से ग्रसित...

Latest Articles

खतरों की आहट – हिंदी व्यंग्य

कहते हैं भीड़ में बुद्धि नहीं होती। जनता जब सड़क पर उतर कर भीड़ बन जाये तो उसकी रही सही बुद्धि भी चली जाती...

नतमस्तक – हिंदी व्यंग्य

अपनी सरकारों की चुस्त कार्यप्रणाली को देख कर एक विज्ञापन की याद आ जाती है, जिसमें बिस्किट के स्वाद में तल्लीन एक कम्पनी मालिक...

कुम्भ महापर्व 2021 हरिद्वार

कुंभ महापर्व भारत की समग्र संस्कृति एवं सभ्यता का अनुपम दृश्य है। यह मानव समुदाय का प्रवाह विशेष है। कुंभ का अभिप्राय अमृत कुंभ...

तक्र (मट्ठे) के गुण, छाछ के फायदे

निरोगता रखने वाले खाद्य-पेय पदार्थों में तक्र (मट्ठा) कितना उपयोगी है इसको सभी जानते हैं। यह स्वादिष्ट, सुपाच्य, बल, ओज को बढ़ाने वाला एवं...

महा औषधि पंचगव्य

‘धर्मार्थ काममोक्षणामारोण्यं मूलमुन्तमम्’ इस शास्त्रोक्त कथन के अनुसार धर्म, अर्थ, काम, मोक्ष हेतु आरोग्य सम्पन्न शरीर की आवश्यकता होती है। पंचगव्य एक ऐसा...